बीस वर्ष की आयु में व्यक्ति का जो चेहरा रहता है, वह प्रकृति की देन है,

बीस वर्ष की आयु में व्यक्ति का जो चेहरा रहता है,
वह प्रकृति की देन है,
तीस वर्ष की आयु का चेहरा जीवन के उतार-चढ़ाव की देन है,
लेकिन पच्चास वर्ष की आयु का चेहरा व्यक्ति की अपनी कमाई है।

bees varsh ki aayu mein vyakti ka jo chehra rehta hai,
vah prakriti ki den hai,
tees varsh ki aayu ka chehra jivan ke utar-chadhav ki den hai,
lekin pachchas varsh ki aayu ka chehra vyakti ki apni kamai hai

The face of a person at the age of twenty,
It is the gift of nature,
The face of the age of thirty is the product of the ups and downs of life,
But the face of the age of twenty-five is the person’s own earnings.

Share

Leave a Comment